Real Time Trading Calls. Powered by Blogger.

Thursday, December 31, 2015

Shares may be the leader, then select whom you

Shares may be the leader, then select whom you

शेयर अगर नेता हो जाएं, फिर किसे चुनेंगे आप



Share what will become the leader, say the market to choose the leader who then choose to take care of your portfolio. So what should be the leader of shares of stock which leader meets skilfully, here you can learn.

शेयर अगर नेता हो जाएं तो क्या होगा, मान लीजिए कि अगर बाजार का नेता चुनना हो तो किसे चुनेंगे जो आपके पोर्टफोलियो की देखभाल कर सके। शेयर अगर नेता हो जाएं तो किस शेयर की खूबी किस नेता से मिलती है, यहां आप जान सकते हैं।

1- Modi Shares: Maruti Suzuki

Maruti Suzuki has returned 39 percent in 2015 and is typical of the share that goes on in these market conditions. As is typical of prime minister after criticism that they are not scared.

1- मोदी शेयर: मारुति सुजुकी
2015 में मारुति सुजुकी में 39 फीसदी का रिटर्न मिला है और इस शेयर की खासियत है कि ये बाजार की विपरीत परिस्थितियों में भी चलता रहा। जैसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की खासियत है कि वो आलोचनाओं के बाद भी घबराते नहीं हैं।

2. Gadkari Shares: Ashok Leyland

Ashok Leyland has returned 75 per cent in 2015 and is typical of the shares that have risen steadily over the years. The Transport Minister Nitin Gadkari is also typical of the better performers this year they are ministers.

2. गडकरी शेयर: अशोक लेलैंड
अशोक लेलैंड ने 2015 में 75 फीसदी रिटर्न दिया है और इस शेयर की खासियत है कि इसमें साल भर धीरे-धीरे तेजी आई है। वहीं सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी की खासियत भी है कि वो इस साल सबसे बेहतर प्रदर्शन करने वाले मंत्री रहे हैं।

3. Rahul Shares: Suzlon

Suzlon has returned 34 percent in 2015. Rahul Gandhi is typical of the way that he is not taken seriously even after considerable efforts to Suzlon same way no matter how good the news.

3. राहुल शेयर: सुजलॉन
2015 में सुजलॉन ने 34 फीसदी का रिटर्न दिया है। जिस तरह कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की खासियत है कि उन्हें काफी कोशिशों के बाद भी कोई गंभीरता से नहीं लेता उसी तरह सुजलॉन को भी कितनी भी अच्छी खबर हो कोई फर्क नहीं पड़ता है।

Kejriwal, who will share the market, so we have to wonder Cairn and Vedanta are difficult, make it easier to share Kejriwal. Is typical of these two stocks that have recovered from the burden of the bad news. Kejriwal situation is somewhat similar. Always uproar and become their habit is bad atmosphere.

बाजार का केजरीवाल शेयर कौन होगा, सोच में पड़ गए तो हम आपकी मुश्किल आसान कर देते हैं- केर्न और वेदांता हैं केजरीवाल शेयर। इन दोनों शेयरों की खासियत है कि ये बुरी खबरों के बोझ से उबर नहीं पाए हैं। केजरीवाल की भी स्थिति कुछ ऐसी ही है। हमेशा हंगामा खड़ा करना और माहौल खराब करना उनकी आदत हो गई है।

4- Kejriwal Share: Cairn and Vedanta

Kern had negative returns of 42 per cent in 2015 to 57 per cent, while Vedanta negative returns. Is typical of these shares that they are unable to recover from the burden of bad news and this is also typical of Kejriwal. Always uproar and to spoil the atmosphere.

4- केजरीवाल शेयर: केर्न और वेदांता
2015 में केर्न ने 42 फीसदी का निगेटिव रिटर्न दिया है जबकि वेदांता को 57 फीसदी की निगेटिव रिटर्न मिला है। इन शेयर की खासियत है कि ये बुरी खबरों के बोझ से उबर नहीं पा रहे हैं और केजरीवाल की खासियत भी यही है। हमेशा हंगामा खड़ा करना और माहौल खराब करना।

Now let's talk Nitish stock. Our Nitish shares InterGlobe Aviation, it's great record. As a result, the day turned Abisasn shares. Like a fool Kumar, who won for the third time in Bihar Nitish, Lalu Prasad has led the Congress got a life.

अब बात करते हैं नीतीश शेयर की। हमारा नीतीश शेयर है इंटरग्लोब एविएशन, शानदार लिस्टिंग की है इसने। इसके चलते एविशएशन शेयरों के दिन फिर गए। एक दम नीतीश की तरह, बिहार में लगातार तीसरी बार जीते हैं नीतीश बाबू इनके चलते लालू और कांग्रेस को भी जीवनदान मिल गया।

5- Nitish Share: InterGlobe Aviation (Indigo)

In the year 2015, 56 per cent have InterGlobe Aviation. This is typical of the steamed listing shares in the IPO market as well, it has brought lively. Bihar Chief Minister Nitish Kumar's typical of the way that He won steamed and Laloo in Bihar, the Congress won dropped.

5- नीतीश शेयर: इंटरग्लोब एविएशन (इंडिगो)
इंटरग्लोब एविएशन ने साल 2015 में 56 फीसदी रिटर्न दिया है। इस शेयर की खासियत है कि धमाकेदार लिस्टिंग के साथ ही इसने आईपीओ बाजार में रौनक ला दी। जिस तरह बिहार के वर्तमान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की खासियत है कि उन्होंनें बिहार में धमाकेदार जीत दिलाई और लालू, कांग्रेस को जीवनदान भी दिलाया।


Read more about:
Our Some Other Tips & Services, Get it Soon !!

www.capitalstars.com | T:+91-731-6790000, 6669900
CapitalStars Financial Research Financial Advisory Services 
stock tips

0 comments:

Post a Comment